सांवला मत्कुण

सांवला मत्कुण की गिनती कपास की फसल में हानि पहुचने वाले छिट-पुट कीटों में होती है. इस कीड़े का जिक्र तो कपास के फोहे खराब करने के लिए या घरों में भण्डारण के समय इंसानों को दुखी करने के लिए ज्यादा किया जाता है | कपास की लुढाई के समय इस कीट के प्रौढ़ों व् …

Read more

तम्बाकूआ-सुंडी

तम्बाकूआ-सुंडी सामनी के समय म्हारे हरियाणा में कपास के साथ-साथ अरहर व डैंचा के पौधों पर दिखाई देने वाला एक पर्ण-भक्षी कीड़ा है। इस सुंडी को कीट-वैज्ञानिक Spodoptera litura कहते-लिखते हैं। अंग्रेज इसे टोबैको केटरपिलर के नाम से पुकारते हैं | इसके परिवार को Noctuidae व वंश-क्रम को Lepidoptera कहा जाता है। इस कीड़े का …

Read more

प्राकृतिक कीटनाशी – बिन्दुआ बुग्ड़ा

बिन्दुआ बुग्ड़ा एक मांसाहारी कीट है जो अपना गुजर-बसर दुसरे कीटों का खून चूस कर करता है। कांग्रेस घास पर यह कीट दुसरे कीटों की तलाश में ही आया है। कांग्रेस घास के पौधों पर इसे मिलीबग, मिल्क-वीड बग़ व जाय्गोग्राम्मा बीटल आदि शाकाहारी कीट व इनके शिशु व अंडे मिल सकते है। इस घास …

Read more

बिन्दुवा बुग्ड़े के अंडे से निकला – बंगिरा

इंसानों द्वारा छेड़े जाने पर ये बिन्दुआ बुग्ड़े बेचैन करने वाली तीक्ष्ण गंध छोड़ते हैं। इस गंध रूपी हथियार को ये कीट दुसरे कीटों से अपना बचाव करने में भी इस्तेमाल करते हैं। आलू की फसल को नुकशान पहुचने वाली कोलोराडो बीटल के तो ग्राहक होते है ये बिन्दुआ बुग्ड़े। इस बुग्ड़े के नवजात पहली …

Read more

सड़ांधला हरिया कपास में एक बुग्ड़ा

सड़ांधला हरिया कपास के खेत में अक्सर दिखाई दे जाने वाला एक पौधाहरी बुग्ड़ा है जो पौधों का जीवन-रस पीकर अपना गुजारा करता है व अपनी वंश-बेल चलाने के प्रयास करता है | इस चक्कर में कपास की फसल को थोडा-बहुत नुकशान भी हो जाये तो, इसे कोंई परवाह भी नही | पर हरियाणा में …

Read more

घूँघटिया कपास (Bt cotton) में शहद की देसी मक्खी

जिला जींद के ज्यादातर किसानों की तरह निडाना निवासी पंडित चन्द्र पाल ने भी अपने खेत में एक एकड़ बी.टी.कपास लगा रखी है। इस कपास की फसल में देसी शहद की मक्खियों (Apis indica) ने अपना छत्ता बना कर डेरा जमा रखा है। एक महिना पहले जब पंडित जी ने इस छाते को देखा तो …

Read more

मुफ्त के कीटनाशी – लेडी बीटल

मिलीबग व चेपे की कुशल शिकारी के रूप में जिला जींद की धरती पर नौ किस्म की बुगडी पायी गयी है | कोक्सीनेलिड्स कुल की इन बुगड़ीयों के प्रौढ़ भी मांसाहारी अर् इनके बच्चे (GRUB ) भी मांसाहारी | गजब की किसान मित्र है ये लेडी बीटल । यूरोपियन लोग इन्हें लेडिबीटल या लेडीबग के …

Read more

तरखान ततैया कीटनाशी ततैया

तरखान ततैया ! जी हाँ, सुरंग बना कर बाथू और खड़बाथू के तने में अपना जापा काढने वाली इस ततैया को जिला जींद के निडानी, निडाना, ईगराह, ललित खेडा व् बराह कलां के किसान तरखान-ततैया व खातिन आदि नामों से जानते हैं। अंग्रेज और हमारे कीट – वैज्ञानिक इस कीड़े को किस नाम से पुकारते …

Read more

मलंगा धान की फसल में एक कीट

मलंगा धान की फसल में पाया जाने वाला एक नाम लेवा सा राष्ट्रव्यापी कीट है | पर धान की फसल में हानि पहुँचाने की स्तिथि में कभी-कभार ही पहुँचता है | यह कीट धान के पत्तों सम्मेत पौधे के किसी भी भाग से रस चूसकर गुज़ारा कर लेता है | खानपान के मामले में इस …

Read more

बांसिया बुग्ड़ा

बांसिया बुग्ड़ा कपास की फसल में पाया गया एक छोटा सा कीड़ा है | छरहरे बदन के इस कीड़े की टांगें अत्याधिक लम्बी व धागेनुमा होती है | इस कीड़े के एंटीना भी बहुत लम्बे होते हैं | इतनी लम्बी टांगों व् एंटीना के बावजूद इस कीड़े के शरीर की लम्बाई बामुश्किल सात से दस …

Read more

error: Content is protected !!