छ्छुँदरिया झींगुर – एक सर्वभाजी कीट

छ्छुँदरिया-झींगुर नाम का यह कीट अक्सर आलू फसल में नुकसान करता पाया जाता है। यूरोपियन लोग इसे Mole Cricket कहते हैं | ये कीट Orthoptera वंशक्रम के Gryllotalpidae कुनबे के सदस्य हैं | भूरे रंग के इस मोटी चमडी वाले कीट की आँखें मनके जैसी तथा अगली टाँगें फावडे जैसी होती है। इन टांगों से यह सुरंग खोदने का काम लेता है। एक रात में ही भूमि की सतह के ठीक नीचे-नीचे 20 फुट लम्बी सुरंग खोदने का माद्दा रखते हैं, ये कीट छ्छुँदरिया-झींगुर रात के समय ही सक्रिय रहते है |

सहवासी-समय के सिवाय यह कीट तकरीबन भूमिगत ही रहता है। सहवास के समय यह 8 किलोमीटर तक भी उड़ सकता है। यह कीट ना तो शुध्द रूप से शाकाहारी है और ना ही शुध्द रूप से मांसाहारी है। जो मिल गया वही खा लेता है। इसीलिए इसे सर्वभक्षी कीट कहा जाता है। इसके भोजन में आलू, पौधों की जड, घास, कीडे, लार्वा आदि शामिल होते हैं |

Leave a Comment

error: Content is protected !!