वायु प्रदूषण और बीमारियाँ Air Pollution and Diseases

वायु प्रदूषण (Air Pollution) खामोशी से मारने वाला है। यह प्रत्येक वर्ष लाखों मौतों के लिए जिम्मेदार है, और यह संख्या केवल बढ़ रही है क्योंकि औद्योगीकरण और शहरीकरण में वृद्धि जारी है। इससे भी ज्यादा खतरनाक बात यह है कि वायु प्रदूषण सिर्फ सांस की समस्या ही पैदा नहीं करता है। इसे कई अन्य बीमारियों (diseases) से जोड़ा गया है, जिनमें से कुछ जानलेवा हैं। 

  1. हृदय रोग (Hearth Disease) से लेकर कैंसर तक, वायु प्रदूषण (Air Pollution) से होने वाली ये ऐसी बीमारियाँ हैं जिनसे आपको अवगत होने की आवश्यकता है। जो लोग ओजोन के प्रति असामान्य रूप से संवेदनशील हैं, वे AQI 51 – 100 पर ही श्वसन संबंधी लक्षणों का अनुभव करते हैं।
  2. AQI 101 – 150 की रेंज में फेफड़ों की बीमारी वाले लोग, हृदय वाले लोग और फेफड़ों की बीमारी, बड़े वयस्कों और बच्चों को हवा में कणों की उपस्थिति से अधिक खतरा होता है।
  3. (101-200) अस्थमा जैसे फेफड़ों की बीमारी वाले लोगों को सांस लेने में परेशानी हो सकती है।
    4.(201-300) लंबे समय तक साँस लेने पर लोगों को साँस लेने में परेशानी हो सकती है,और हृदय रोग वाले लोगों को समस्या हो सकती है।
    5.(301-400) लंबे समय तक साँस लेने पर लोगों को सांस की बीमारी हो सकती है। प्रभाव उन लोगों में अधिक गंभीर हो सकता है जो फेफड़े और हृदय रोगों के साथ जी रहे हैं।
  4. (401-500) स्वस्थ लोगों पर भी श्वसन प्रभाव पड़ सकता है, और फेफड़े / हृदय रोग वाले लोगों पर गंभीर स्वास्थ्य प्रभाव पड़ सकता है। सामान्य सैर के दौरान भी स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों का अनुभव किया जा सकता है।

 AQI 300 से अधिक आपातकालीन स्थितियों (Emergency situations) की स्वास्थ्य चेतावनियों को ट्रिगर करेगा। पूरी आबादी प्रभावित होने की अधिक संभावना है। कण प्रदूषण जोखिम से सबसे अधिक जोखिम वाले लोगों में हृदय या फेफड़ों की बीमारी (अस्थमा और पुरानी अवरोधक फुफ्फुसीय रोग-सीओपीडी सहित), वृद्ध वयस्क और बच्चे शामिल हैं।

अनुसंधान इंगित करता है कि गर्भवती महिलाओं, नवजात शिशुओं, और कुछ स्वास्थ्य स्थितियों वाले लोग, जैसे कि मोटापा या मधुमेह, भी पीएम से संबंधित प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील हो सकते हैं।

वायु प्रदूषण (Air Pollution) एक गंभीर वैश्विक समस्या है जो कई तरह की बीमारियों को जन्म देती है। इनमें से कई रोग रोके जा सकते हैं। इसलिए, उनके बारे में जागरूक होना और वायु प्रदूषण से खुद को बचाने के लिए कदम उठाना महत्वपूर्ण है। यदि आप में उपरोक्त लक्षणों में से कोई भी प्रदर्शित करते हैं, तो बेहतर मार्गदर्शन के लिए डॉक्टर से परामर्श करें।

Leave a Comment